मुसलमान भाइयों से अपील है कि वे सिर्फ वोट बन कर न रहें: नरेंद्र मोदी

नरेंद्र मोदी से उर्दू साप्‍ताहिक नई दुनिया के संपादक शाहिद सिद्दीकी का इंटरव्यू. यही वो इंटरव्‍यू है, जिसके प्रकाशन के बाद समाजवादी पार्टी ने शाहिद सिद्दीकी से किनारा कर लिया.

शाहिद सिद्दीकी : नरेंद्र मोदी जी, हिंदुस्तान का आपका तस्वर (कल्पना) क्या है? क्या आप हिंदुस्तान को एक हिंदू राष्ट्र बनाना चाहते हैं? अगले पचास वर्षों में आप कैसा हिंदुस्तान बनाना चाहते हैं?

नरेन्द्र मोदी : हम एक खुशहाल भारत देखना चाहते हैं। एक मजबूत भारत देखना चाहते हैं। 21वीं सदी भारत की सदी हो, यह हमारा स्वप्न है, जिसे साकार करना है।

सिद्दीकी : कहा जाता है कि आप गुजरात को हिंदू राष्ट्र की प्रयोगशाला के तौर पर इस्तेमाल कर रहे हैं। अगर आप केंद्र में सत्तारूढ़ हो गये तो आप भारत को एक हिंदू राष्ट्र बनाना चाहेंगे। इसमें मुसलमानों और दूसरी अल्पसंख्यकों की कैसी जगह होगी?

मोदी : पहली बात तो यह है कि आज गुजरात में अल्पसंख्यकों की जो जगह है, वह पूरे देश की तुलना में ज्यादा अच्छी है। और दूसरे बेहतर होने की गुंजाइश इतनी ही है, जितनी किसी हिंदू की। मुसलमान को भी आगे बढ़ने का उतना ही मौका मिलना चाहिए, जितना किसी हिंदू को। अगर तशब हो तो एक घर भी नहीं चल सकता। एक बहु अच्छी लगे और दूसरी न लगे तो घर में सुकून नहीं हो सकता।

पूरा इंटरव्यू पढ़ने के लिये क्लिक करें

 

Advertisements